ब्रेन बूस्टिंग फ़ूड ( आहार ) खाएं, कम्प्यूटर से भी तेज पाएं. आज ही करें अपने आहार मे शामिल ! अनमोल घरेलू नुस्खे !

 ब्रेन बूस्टिंग फ़ूड ( आहार ) खाएं, कम्प्यूटर से भी तेज पाएं. आज ही करें अपने आहार मे शामिल ! अनमोल घरेलू नुस्खे !
Last Updated: 05 मार्च 2024

ब्रेन बूस्टिंग फ़ूड ( आहार ) खाएं, कम्प्यूटर से भी तेज पाएं. आज ही करें अपने आहार मे शामिल !

यदि आप चाहते है कम्प्यूटर से भी तेज चलने वाला दिमाग तो ब्रेन बूस्टिंग फ़ूड आपने आहार मे करे शामिल      If you want a faster brain than a computer, then include brain boosting food in your diet

 

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारा मस्तिष्क सिकुड़ने लगता है और कोशिकाएं कमजोर होने लगती हैं, जिससे याददाश्त कमजोर होने लगती है। जबकि यह मुख्य रूप से बुजुर्गों के लिए चिंता का विषय हुआ करता था, आजकल बच्चे और युवा वयस्क भी इस समस्या से अछूते नहीं हैं। मूल कारणों में आहार संबंधी असंतुलन, शैक्षणिक और काम का दबाव और अवसाद शामिल हैं, जो सभी याददाश्त को कमजोर करने में योगदान करते हैं। स्मृति हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है; अगर चीजें हमारे दिमाग से फिसल जाएं तो कई तरह की चुनौतियां सामने आ सकती हैं। पौष्टिक खाद्य पदार्थों के अपर्याप्त सेवन और उम्र बढ़ने के प्रभावों के कारण भी कमजोर याददाश्त हो सकती है। कमजोर याददाश्त को बढ़ाने के लिए आजमाएं ये उपाय.

 

ये भी पढ़ें:-

आज हम कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी देंगे जो आपके दिमाग की कार्यक्षमता को तेज कर सकते हैं और याददाश्त बढ़ा सकते हैं।

 

**कद्दू के बीज:**

हालाँकि आप कद्दू के व्यंजन और मिठाइयाँ का आनंद ले सकते हैं, लेकिन क्या आप कद्दू के बीज के असंख्य लाभों के बारे में जानते हैं? कद्दू के बीज का सेवन करने से दिमाग और याददाश्त तेज होती है। ये बीज जिंक की उपस्थिति के कारण मस्तिष्क स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए जाने जाते हैं, जो स्मरण शक्ति को बढ़ाता है और सोचने के कौशल में सुधार करता है। बच्चों की याददाश्त बढ़ाने के लिए उन्हें अपने आहार में शामिल करना फायदेमंद होता है।

 

**डार्क चॉकलेट:**

डार्क चॉकलेट आजकल सबसे अच्छे सुपरफूड्स में से एक मानी जाती है। डार्क चॉकलेट का प्रत्येक टुकड़ा आपके दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है और मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बढ़ाता है। डार्क चॉकलेट में विभिन्न घुलनशील फाइबर और खनिज जैसे ओलिक एसिड, स्टीयरिक एसिड और पामिटिक एसिड होते हैं। यह कार्बनिक यौगिकों से भी समृद्ध है जो रक्तचाप और परिसंचरण को नियंत्रित करते हैं, जिससे हृदय रोग और कैंसर का खतरा कम होता है।

 

**मछली:**

मछली, खासकर ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर तैलीय मछली का सेवन मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। मछली के तेल में पाया जाने वाला ओमेगा-3 फैटी एसिड बच्चों में मस्तिष्क और आंखों के विकास को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। ठंडे पानी की मछलियाँ विशेष रूप से ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर होती हैं और इन्हें अक्सर "दिमाग का भोजन" कहा जाता है।

**पालक:**

पालक ओमेगा-3 फैटी एसिड, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम और विटामिन बी6, ई और फोलेट से भरपूर होता है। फोलेट याददाश्त और मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है, क्योंकि इसकी कमी से कमजोर याददाश्त और अल्जाइमर रोग हो सकता है।

 

**बादाम:**

बादाम के सेवन से याददाश्त को बढ़ाया जा सकता है। रोजाना कम से कम 11-12 बादाम खाने की सलाह दी जाती है। ज़्यादा खाने से अतिरिक्त लाभ नहीं मिलेगा, इसलिए संयम महत्वपूर्ण है। बादाम को नाश्ते के रूप में या दूध में मिलाकर खाया जा सकता है। गर्मियों के दौरान सेवन से पहले इन्हें पानी में भिगोने से ठंडक मिलती है।

 

**अखरोट:**

अखरोट अपनी उच्च पोषण सामग्री के कारण मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। इनमें विटामिन ई, कॉपर और मैंगनीज जैसे कई पोषक तत्व होते हैं, जो दिमागी शक्ति को बढ़ाते हैं।

 

**हरी चाय:**

ग्रीन टी में कैफीन होता है, जो मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बढ़ाता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट भी होते हैं जो सतर्कता, प्रदर्शन, स्मृति और फोकस में सुधार करते हैं। रोजाना 2-3 कप ग्रीन टी पीने से याददाश्त बढ़ती है और आराम मिलता है।

 

**अनार:**

अनार पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो मस्तिष्क के स्वास्थ्य और याददाश्त में सुधार करने में मदद करता है। इसमें पॉलीफेनोल्स होते हैं जो मस्तिष्क कोशिकाओं को क्षति से बचाने में मदद करते हैं।

 

**जामुन:**

ब्लूबेरी, स्ट्रॉबेरी और ब्लैकबेरी जैसे जामुन मैग्नीशियम, विटामिन सी और फाइबर से भरपूर होते हैं। इनमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो मस्तिष्क की कोशिकाओं को मजबूत करते हैं और याददाश्त बढ़ाते हैं।

 

इन खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करने से मस्तिष्क की कार्यप्रणाली में सुधार हो सकता है और याददाश्त बढ़ सकती है।

नोट: ऊपर दी गई सारी जानकारियां पब्लिक्ली उपलब्ध जानकारियों और सामाजिक मान्यताओं पर आधारित है, subkuz.com इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता.किसी भी  नुस्खे  के प्रयोग से पहले subkuz.com विशेषज्ञ से परामर्श लेने की सलाह देता है.

Leave a comment

ट्रेंडिंग