सर्दियों में रूम हीटर न करे इस्तेमाल, हो सकता है खतरनाक,आज ही हो जाएं सावधान।

सर्दियों में रूम हीटर न करे इस्तेमाल, हो सकता है खतरनाक,आज ही हो जाएं सावधान।
Last Updated: 15 मई 2024

सर्दी के मौसम में लोग खुद को गर्म रखने के लिए तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में, लोग गर्म रहने के लिए लकड़ी या गाय के गोबर के उपलों का उपयोग करके आग जलाने जैसे पारंपरिक तरीकों को चुनते हैं। इसके विपरीत, शहरी क्षेत्र रूम हीटर या ब्लोअर पर अधिक निर्भर हैं। हालाँकि, हीटर का अत्यधिक उपयोग स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है। इनका उपयोग करते समय कुछ सावधानियां बरतनी जरूरी हैं, खासकर अस्थमा से पीड़ित व्यक्तियों के लिए। कड़ाके की ठंड से बचने के लिए लोग कपड़ों की कई परतें बांध लेते हैं, फिर भी वे अक्सर कांपते रहते हैं। ग्रामीण और शहरी दोनों स्थितियों में, इस मौसम में हीटर ही सबसे पसंदीदा समाधान बन जाता है। जहां हीटर ठंड से राहत देते हैं, वहीं वे कई स्वास्थ्य जोखिम भी पैदा करते हैं। अगर आप अपने शरीर को गर्म रखने के लिए लगातार हीटर पर निर्भर रहते हैं, तो इससे जुड़े खतरों के बारे में जागरूक होना जरूरी है।

 

रूम हीटर से होने वाले खतरे:

हालाँकि बहुत से लोग रूम हीटर पसंद करते हैं, लेकिन वे अक्सर इनसे होने वाले संभावित खतरों को नज़रअंदाज कर देते हैं। अधिकांश रूम हीटरों में एक लाल-गर्म धातु की छड़ होती है जो नमी को अवशोषित करके हवा को गर्म करती है, जिससे कमरे का तापमान बढ़ जाता है।

हीटर से निकलने वाली हवा त्वचा को अत्यधिक शुष्क बना सकती है, जिससे सोने में कठिनाई और सिरदर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं। पारंपरिक हीटर, हैलोजन हीटर या ब्लोअर का अत्यधिक उपयोग आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है क्योंकि इन हीटरों से निकलने वाले रसायन सांस के माध्यम से शरीर में प्रवेश करते हैं और आंतरिक क्षति का कारण बनते हैं। अस्थमा या एलर्जी से पीड़ित व्यक्तियों को विशेष रूप से हीटर के संपर्क में आने से बचने की सलाह दी जाती है।

ये भी पढ़ें:-

 

बच्चों से संबंधित मुद्दे:

रूम हीटर न केवल वयस्कों के लिए हानिकारक हैं बल्कि बच्चों के लिए भी जोखिम पैदा करते हैं। रूम हीटर के लंबे समय तक संपर्क में रहने से बच्चों की त्वचा और नाक के मार्ग को नुकसान हो सकता है, जिससे खांसी, छींक, छाती में जमाव और श्वसन संबंधी समस्याएं जैसे लक्षण हो सकते हैं। इसके अतिरिक्त, हीटर के संपर्क में आने से शिशुओं की त्वचा पर चकत्ते और नाक बहने की समस्या हो सकती है।

 

ऑक्सीजन की हो सकती है कमी:

कभी भी बंद कमरे में लगातार हीटर का उपयोग न करें क्योंकि यह हवा से तेजी से ऑक्सीजन कम कर देता है, जिसके परिणामस्वरूप चक्कर आना, मतली और सिरदर्द जैसे लक्षण होते हैं। सामान्य ऑक्सीजन स्तर बनाए रखने के लिए हीटर का उपयोग करते समय कमरे में उचित वेंटिलेशन सुनिश्चित करने की सिफारिश की जाती है।

जहरीली गैस के दुस्प्रभाव:

हीटर कार्बन मोनोऑक्साइड जैसी जहरीली गैसें उत्सर्जित करते हैं, जो मस्तिष्क पर गंभीर प्रभाव डाल सकती हैं, खासकर शिशुओं में। कार्बन मोनोऑक्साइड के संपर्क से न केवल बच्चे प्रभावित होते हैं बल्कि वयस्कों के लिए भी स्वास्थ्य संबंधी जोखिम पैदा होता है। अस्थमा या श्वसन संबंधी एलर्जी वाले व्यक्तियों को हीटर वाले कमरे में रहने से बचने की सलाह दी जाती है।

 

हो सकती ह अस्थमा की बिमारी:

यदि आपको अस्थमा या कोई श्वसन संबंधी समस्या है, तो हीटर का उपयोग कम करने की सलाह दी जाती है। हीटर न केवल गर्म हवा छोड़ते हैं बल्कि गैस भी छोड़ते हैं जिससे खांसी, आंखों में जलन और शरीर में खुजली हो सकती है।

 

उपाय:

यदि आप हीटर खरीद रहे हैं, तो तेल हीटर खरीदने पर विचार करें, जो अन्य प्रकारों की तुलना में अधिक सुरक्षित है।

हवा में नमी जोड़ने और शुष्कता को रोकने के लिए हीटर के पास पानी से भरा एक कंटेनर रखें।

अगर हीटर की वजह से आपकी आंखों में जलन महसूस हो तो तुरंत अपनी आंखों को ठंडे पानी से धो लें।

रात भर लगातार हीटर का उपयोग करने से बचें क्योंकि इससे आपकी त्वचा शुष्क हो सकती है और सांस लेने में कठिनाई हो सकती है। इसके बजाय, कमरा गर्म होने के बाद सोने से एक या दो घंटे पहले हीटर बंद कर दें।

जब कमरा तापमान को सामान्य करने के लिए बहुत अधिक गर्म हो जाए तो खिड़की या दरवाज़ा खोलें।

हीटर त्वचा को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। लंबे समय तक हीटर के संपर्क में रहने से त्वचा की नमी कम हो सकती है, जिससे खुजली हो सकती है और त्वचा काली पड़ सकती है। इसलिए, सीमित समय के लिए हीटर का उपयोग करने और कमरा पर्याप्त गर्म होने पर उन्हें बंद करने की सलाह दी जाती है।

 

नोट: हमारा इरादा इस आर्टिकल के माध्यम से केवल जानकारी प्रदान करना है। हम कोई चिकित्सीय सलाह या उपचार प्रदान नहीं करते हैं। केवल एक योग्य चिकित्सा पेशेवर ही उपयुक्त सलाह दे सकता है क्योंकि उनके पास आवश्यक विशेषज्ञता होती है।

Leave a comment

ट्रेंडिंग