चन्दन औषधीय गुण और सुगंध से भरपूर होता है,आइये चंदन के तेल से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जाने |

चन्दन औषधीय गुण और सुगंध से भरपूर होता है,आइये चंदन के तेल से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जाने |
Last Updated: Tue, 08 Mar 2022

चंदन के वृक्ष में औषधीय गुण और सुगंध होती है। इसे सभी वृक्षों में सबसे सुगंधित माना जाता है। कहा जाता है कि जितना पुराना चंदन का पेड़ होता है, उससे बना तेल उतना ही गुणकारी और लाभदायक होता है। चंदन का उपयोग प्राचीन काल से स्वास्थ्य समस्याओं के लिए किया जा रहा है, विशेष रूप से त्वचा और बालों की समस्याओं के लिए। हालांकि, चंदन का तेल हर समस्या का समाधान नहीं है, इसलिए गंभीर समस्याओं के लिए डॉक्टर से परामर्श अवश्य करें। इस लेख में हम चंदन के तेल के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानेंगे।

 

चंदन के तेल से होने वाले फायदे-

 

बालों की ग्रोथ बढ़ाए:

ये भी पढ़ें:-

चंदन का तेल बालों की जड़ों में जमा होने वाले मास्ट सेल्स को हटाकर बालों के विकास को बढ़ावा देता है। यह बालों की समस्याओं से छुटकारा पाने में सहायक हो सकता है।

 

अनिद्रा की समस्या दूर करे:

चंदन के तेल में सैंटालोल नामक तत्व पाया जाता है, जो केंद्रीय तंत्रिका तंत्र से संबंधित तनाव को दूर कर अनिद्रा की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है। चंदन के तेल से सिर की मसाज कर नींद न आने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

 

तनाव दूर करें:

चंदन के तेल से मसाज करने से चिंता और तनाव जैसी समस्याओं से राहत मिल सकती है। यह तनाव को कम करने में मददगार साबित हो सकता है।

 

सूजन कम करे:

चंदन के तेल में एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं जो त्वचा की सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। यह त्वचा पर आने वाली किसी भी तरह की सूजन को कम करने में मदद करता है।

स्मरण शक्ति बढ़ाए:

चंदन का तेल याददाश्त सुधारने में लाभकारी होता है। यह दिमाग को ठंडक पहुंचाता है और तनाव व डिप्रेशन की समस्या को दूर करता है। मसाज या सेवन से यह याददाश्त को बढ़ाने में मदद करता है।

 

चंदन के तेल का उपयोग

यह शरीर को ठंडक पहुंचाता है और उत्सर्जन प्रणाली में रुकावटों को दूर करता है, जिससे मूत्र मार्ग से विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं।

शरीर की दुर्गंध की समस्या के लिए नहाने के पानी में इसकी कुछ बूंदें डाल सकते हैं।

स्वास्थ्य लाभ के लिए दो बूंदें रूई पर लेकर सूंघना लाभकारी होता है।

 

चंदन के तेल के नुकसान

गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली महिलाएं डॉक्टर की सलाह पर ही इसका उपयोग करें।

चंदन के तेल का अत्यधिक मात्रा में उपयोग स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

इसे सीधे तौर पर लगाने से बचें, भोजन के साथ इसका उपयोग कर सकते हैं।

संवेदनशील त्वचा वाले लोग इसका उपयोग न करें। नारियल के तेल में मिलाकर इसे उपयोग कर सकते हैं।

इसमें मौजूद अल्फा सैंटालोल के कारण इसका बहुत कम मात्रा में उपयोग करना चाहिए। अधिक मात्रा में उपयोग से खुजली और जलन हो सकती है।

Leave a comment

ट्रेंडिंग