Lok Sabha Election 2024 Result: यूपी में त्रिस्तरीय सुरक्षा-व्यवस्था में होगी मतगणना, 75 जिलों के 81 केन्द्रो पर होगी CCTV की नजर, पढ़ें पूरी जानकारी

Lok Sabha Election 2024 Result: यूपी में त्रिस्तरीय सुरक्षा-व्यवस्था में होगी मतगणना, 75 जिलों के 81 केन्द्रो पर होगी CCTV की नजर, पढ़ें पूरी जानकारी
Last Updated: Mon, 03 Jun 2024

उत्तर प्रदेश में 4 जून (मंगलवार) को त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था के बीच 75 जिलों में कुल 81 केंद्र पर मतगणना होगी। पोलिंग बूथ की संख्या के आधार पर कानपुर का लोकसभा सीट का परिणाम सबसे पहले और गाजियाबाद का सबसे आखिर में घोषित होने की उम्मीद हैं।

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान १ जून को संपन्न होने के साथ ही निर्वाचन आयोग मतगणना की तैयारी में लग गया था। प्रदेश के सभी 80 लोकसभा सीटों के लिए मंगलवार (4 जून) को सुबह आठ बजे से मतगणना की शुरुआत होगी। दोपहर तक सभी सीटों पर स्पष्ट रुझान और शाम तक परिणाम आ जाएंगे। पोलिंग बूथ से प्राप्त जानकारी के मुताबिक कानपुर का परिणाम सबसे पहले और गाजियाबाद का सबसे लास्ट में आने की उम्मीद हैं। प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों के लिए कुल 851 उम्मीदवारों का भविष्य दाव पर हैं।

मतगणना पर CCTV की रहेगी नजर 

मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप कुमार रिणवा ने Subkuz.com को बताया कि मतगणना के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा-व्यवस्था की गई है। मतगणना स्थल से 100 मीटर की परिधि पर क्षेत्रीय पुलिस बल तैनात किया जाएगा। मतगणना एवं सीलिंग की कार्रवाई के दौरान सीसीटीवी की निगरानी रहेगी। उन्होंने बताया कि मतगणना के लिए 179 प्रेक्षक तैनात किए जाएंगे। 80 लोकसभा सीटों की मतगणना  80 रिटर्निंग अफसर और 1581 सहायक रिटर्निंग अफसर करेंगे। वहीं, ददरौल, लखनऊ पूर्व, गैंसड़ी और दुद्धी विधानसभा उप निर्वाचन क्षेत्र की गणना चार रिटर्निंग आफिसर और 26 सहायक रिटर्निंग आफिसर द्वारा करवाई जाएगी। पोस्टल बैलेट की मतगणना आरओ मुख्यालय में होगी। मीडिया और आम जनता आधिकारिक बेवसाइट result.eci.gov.in पर जाकर रुझान व परिणाम की पूरी जानकारी देख सकते हैं।

ये भी पढ़ें:-

पांच पोलिंग बूथ की वीवीपैट स्लिप की होगी गणना

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने मीडिया को बताया कि विधानसभावार होने वाली गणना के तहत प्रत्येक विधानसभा के पांच मतदान स्थल को ड्रा आधार पर चुना जाएगा और उन पोलिंग बूथ के वीवीपैट स्लिप की गणना की जाएगी। उन्होंने यह भी स्पष्ट रूप से कहां है कि किसी बूथ से संबंधित कंट्रोल यूनिट (सीयू) का डिस्प्ले न दिखने पर और सीयू से परिणाम नहीं निकलता है तो ऐसी सभी ईवीएम की मतगणना बूथ के वीवीपैट स्लिप की जाएगी। इसके अलावा यदि किसी बूथ की कंट्रोल यूनिट से माक पोल के मतों को नहीं हटाया गया है तो उक्त कंट्रोल यूनिट की मतगणना उस समय नहीं की जाएगी।

प्रत्येक टेबल पर बैठेंगे काउंटिंग एजेंट

अधिकारी ने बताया कि मतगणना हाल के प्रत्येक टेबल पर काउंटिंग एजेंट के बैठने की समुचित व्यवस्था होगी। टेबल पर कंट्रोल यूनिट (सीयू) आने के बाद मतगणना पर्यवेक्षक की ओर से सीयू नंबर दिखाया जरुरी है, जिससे यह पूरी तरह से स्पष्ट होगा कि सीयू उसी बूथ से संबंधित है। सीयू के साथ 17सी भाग-1 में उल्लेखित दिशा निर्देशों को एजेंटों को बताया जाएगा। इसके बाद ही सीयू को चालू करके प्रत्याशीवार मतगणना परिणाम 17सी भाग-2 पर अंकित किया जाएगा। किसी एजेंट द्वारा पुन: परिणाम दिखाए जाने का अनुरोध करने पर पर्यवेक्षक द्वारा पुन: परिणाम दिखाया जा सकेगा। 17सी भाग-2 पर मतगणना पर्यवेक्षक एवं काउंटिंग एजेंट के हस्ताक्षर के बाद एक प्रति फीडिंग के तौर पर रखी जाएगी और दूसरी प्रति की छायाप्रति काउंटिंग एजेंट को उपलब्ध करवाई जाएगी।

Leave a comment


ट्रेंडिंग