दो महिलाओ के बिच नोक -झोक की मजेदार कहानियां I

दो महिलाओ के बिच नोक -झोक की मजेदार कहानियां I
Last Updated: 07 मई 2024

दोस्तों हमारे देश में कहानी कहने की परंपरा काफी प्राचीन है। हम बचपन से ही अपने दादा-दादी, मौसी और चाचाओं से कहानियाँ सुनते हुए बड़े हुए हैं। हालाँकि, आज की डिजिटल दुनिया में, ऐसा लगता है कि कहानियाँ साझा करने की परंपरा धीरे-धीरे ख़त्म होती जा रही है। कहानियों के माध्यम से न केवल बच्चे बल्कि वयस्क भी बहुत कुछ सीखते और समझते हैं। हमारा उद्देश्य नई कहानियों से आपका मनोरंजन करना है जिनमें कुछ संदेश भी हों। हमें उम्मीद है कि आप सभी को हमारी कहानियाँ पसंद आएंगी। यहां आपके लिए एक दिलचस्प कहानी है.

 

पड़ोसियों के बीच नोकझोंक की एक जीवंत कहानी

सुबह-सुबह गुप्ता जी घर में ताला लगाकर पूरे परिवार के साथ घर से निकलने ही वाले थे कि अचानक बगल के पड़ोसी ने आकर पूछा, "अचानक कहां चले गए? तुमने बताया तक नहीं" हमें कुछ भी..."

गुप्ता जी ने उत्तर दिया, "क्या बताऊँ मित्र... आज सुबह टीवी पर भविष्य बताने वाला ऋषि कह रहा था कि आज पड़ोसी से झगड़ा होने की सम्भावना है। तो मेरी पत्नी बोली, क्यों बेकार में झगड़ा मोल लेते हो?" , चलो बस इस संभावना को खत्म करें और कहीं बाहर चलें, इसलिए हम कल जाने की योजना बना रहे है|

ये भी पढ़ें:-

तभी पड़ोसी आ गया और बोला, "यह क्या है भाई? क्या तुम भी इन सब बातों पर विश्वास करते हो?"

गुप्ता जी ने जवाब दिया, "नहीं भाभी, सच में नहीं... लेकिन...।"

पड़ोसी ने टोका, "अरे, उन्हें अकेला छोड़ दो। हम बिना वजह क्यों लड़ें? तुम लोग मत जाओ, यहीं रहो।"

तभी गुप्ता जी की पत्नी को गुस्सा आ गया और उसने अपनी भड़ास पड़ोसी पर उतारनी शुरू कर दी... "पड़ोसी, तुम तो हमेशा हमारे पीछे पड़े रहते हो, क्या तुम हमें खुश नहीं देख सकते? बाहर जाने का मौका मिलना कितनी चुनौती थी आज, और वह भी आपके हस्तक्षेप से अछूता नहीं रहा..."

पड़ोसी के कुछ शब्द, गुप्ता जी की पत्नी के कुछ शब्द, और दो घंटे तक ऐसा ही चलता रहा और भविष्यवाणी सच हो गई।

 

यह थी एक दिलचस्प और मजेदार कहानी। ऐसी और भी मजेदार कहानियां पढ़ते रहिये subkuz.Com पर क्योंकि  subkuz.Com पर मिलेगी आपकी हर एक केटेगरी की कहानी वो भी आपकी अपनी हिंदी भाषा में।

Leave a comment

ट्रेंडिंग