धनु राशि राशिफल :जनवरी से दिसम्बर तक धनु राशि वालों के लिए कैसा रहेगा? पुरे 2023 का राशिफल

धनु राशि राशिफल :जनवरी से दिसम्बर तक धनु राशि वालों के लिए कैसा रहेगा? पुरे 2023 का राशिफल
Last Updated: Fri, 10 Feb 2023

नया साल शुरू होने से पहले सभी यह जानने के इच्छा रखते हैं कि उनके लिए नया साल कैसा रहेगा। आने वाले साल में उनके जीवन पर ग्रहों-नक्षत्रों का कैसा प्रभाव रहेगा। धनु राशि के जातकों के लिए इस वर्ष की शुरुआत में ही शनि देव तीसरे भाव में गोचर कर शुभ फल प्रदान करने वाले है। इस राशि के जातक पिछले साढ़े 7साल से चल रही शनि की साढ़े साती से अब मुक्त हो जाएंगे। शनि देव की कृपा से आपका साहस बढ़ा हुआ रहेगा वहीं आपको भाग्य का भी भरपूर साथ मिलने वाला है। राशि स्वामी गुरु मीन राशि में गोचर करेंगे और आपको राजयोग का पूरा लाभ मिलेगा। घर में मांगलिक कार्य का आयोजन और भवन प्राप्ति भी संभव है। 22 अप्रैल के बाद गुरु पंचम भाव में प्रवेश कर राहु के साथ युति करेंगे जिससे की गुरु चांडाल दोष का निर्माण होगा। इस समय आपको प्रेम संबंध में थोड़ी सावधानी बनाकर चलना होगा। धन से जुड़े मामलों में कठिनाई आ सकती है। साल के उत्तरार्ध में 30 अक्टूबर को राहु केतु अपनी राशि बदलने वाले है। राहु का संचरण मीन राशि में वहीं केतु का संचरण अब कन्या राशि में होगा। राहु आपके चौथे भाव में विराजमान हो कर थोड़ी मानसिक चिंता बढ़ाने वाले होंगें। वही केतु की वजह से कार्य स्थल पर कठिनाई होगी हालांकि राजनीति से जुड़े जातक इस समय प्रसिद्धि प्राप्त करेंगे। बाकी और ग्रहों के गोचर भी समय समय पर आपके जीवन में बदलाव लाएगा। 

जनवरी

जनवरी माह में लग्न पर विराजमान बुध पर राहु की दृष्टि से आपको मित्रों से धोखा प्राप्त हो सकता है। इस समय आपको अपने मित्रों की हर बात पर यकीन नहीं करना है। गुरु के सहयोग से आपको अपनी मां का सहयोग मिलने वाला है। इस समय आपको उच्च पद की प्राप्ति भी सम्भव है। साल के शुरुआत में मंगल का गोचर विदेश से लाभ करवाने वाला होगा। शनि 17 जनवरी को कुम्भ में प्रवेश करेंगे और आपको साढ़ेसाती से मुक्ति मिलेगी। इस समय गुरु की दृष्टि अष्टम भाव पर होने के कारण आपको मंत्रों में रूचि होगी और आप साधना में अधिक समय बिताने वाले है।

फरवरी

फरवरी माह में शनि की कृपा से आपके साहस और पराक्रम में वृद्धि होगी। तीसरे भाव में शनि बेहद शुभ फल देने वाले कहे गए है इसलिए इस समय आपको अपने भाइयों का भी सहयोग प्राप्त होगा। काम के सिलसिले में की गई यात्रा बेहद शुभ फल देने वाली होगी। इस समय पंचम भाव में विराजमान राहु पर शनि की नीच की दृष्टि के कारण आपको किसी भी नए निवेश से बचने की सलाह दी जाती है। इस माह आप शेयर मार्केट में सोच समझकर पैसा खर्च करे तो ही बेहतर है। माह मध्य में सूर्य शनि की युति से सरकारी कामों में सफलता मिलती हुई दिखाई देगी। 

ये भी पढ़ें:-

मार्च

मार्च माह में पंचम में राहु शुक्र और सप्तम में मंगल का गोचर आपकी कामेच्छा को तीव्र करेगा। मंगल पर केतु की दृष्टि पत्नी से विवाद या अलगाव का कारण भी बन सकती है। इस माह पत्नी से किसी भी प्रकार का व्यर्थ विवाद नहीं करना है। युवा जातक काम इच्छा की तीव्रता में किसी के साथ कोई जबरदस्ती नहीं करें तो ही अच्छा होगा। केंद्र में सूर्य और गुरु के बलवान राजयोग से इस माह आप कोई सम्पत्ति खरीद सकते हैं। सरकारी नौकरी की राह देख रहे जातकों को इस माह अच्छी खबर मिल सकती है। इस माह परिवार में आपका सम्मान होगा और आपकी मां आपसे बेहद खुश रहेगी।

अप्रैल

अप्रैल माह में बृहस्पति 22 अप्रैल को आपके पंचम भाव में संचरण करेंगे और राहु के साथ गुरु चांडाल दोष का निर्माण होगा वहीं माह के मध्य में सूर्य भी उच्च होकर युति करेंगे जिससे ग्रहण दोष का निर्माण होगा। पंचम भाव का यह ग्रहण दोष आपको अशुभ परिणाम देने वाला रहेगा। इस समय आपके प्रेम संबंधों में खटास आने के योग है वही पिता के स्वास्थ्य को भी कष्ट हो सकता है। इस माह आपको धन से जुड़े मामलों में थोड़ी कठिनाई आ सकती है। आप अपनी ही बात को लोगों को समझा नहीं पाएंगे और आप गलत साबित होंगे। इस समय आपको संतान पक्ष से भी कठिनाई संभव है। परिवार के किसी सदस्य की बीमारी में धन खर्च होगा। 

मई

मई माह में सप्तम भाव में विराजमान शुक्र वैवाहिक जीवन के लिए सुखमय रहने वाला है। इस समय आप अपनी पत्नी के साथ क़्वालिटी टाइम स्पेंड करेंगे। स्त्री जातकों के लिए गर्भ धारण करने का उचित समय है। इस माह पंचमेश मंगल अष्टम भाव में अपनी नीच राशि में प्रवेश करेंगे। यह समय हृदय रोगियों के लिए थोड़ा कठिन रहने वाला है। आपको इस समय अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखना होगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे जातकों को इस माह अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। किसी स्त्री के साथ अगर आप कोई काम शुरू करने की सोच रहे है तो अच्छा समय है। 

जून

जून माह में अष्टम में मंगल शुक्र की युति आपको किसी स्त्री की ओर आकर्षित करने वाली होगी। इस समय आपको अपने प्रेमी पर शक करने से बचना होगा। सप्तम में विराजमान सूर्य पर केतु का प्रभाव पिता की सेहत को नासाज कर सकता है। इस समय संतान की संगति पर भी आपको ध्यान रखना होगा। इस माह आपको नौकरी बदलने का प्रस्ताव आ सकता है। जो विद्यार्थी अपने शोध कार्यों के लिए विदेश जाना चाह रहे है उनके लिए उचित समय है। इस माह कारोबारी जातकों को नए काम के अवसर प्राप्त होंगे वही यात्राओ से भी लाभ की गुंजाईश दिखाई पड़ रही है। 

जुलाई

जुलाई माह में आपको अपने करियर में अच्छी ग्रोथ देखने को मिल सकती है। इस माह आपको अपने मित्रों से कोई बड़ी मदद मिल सकती है। ननिहाल पक्ष से आपको कोई बड़ा गिफ्ट मिल सकता है। माह के मध्य में शुभ ग्रह की युति आपको सफलता प्रदान करने का काम करेगी। इस माह आपको टीम को लीड करने का मौक़ा मिलने वाला है जिसमें आपको अच्छी सफलता प्राप्त होगी हालांकि अष्टम में शुक्र के गोचर के कारण पत्नी के स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा वही ससुराल पक्ष से किसी भी प्रकार के आर्थिक लेन देन से भी आपको बचना होगा। 

अगस्त

अगस्त माह में भाग्य भाव में सूर्य बुध की युति पर गुरु का प्रभाव आपको राहत देने वाला होगा। इस समय जीवन में किसी गुरु का आगमन आपको संसार के सही मायने समझा सकता है। आप किसी धधार्मिक यात्रा पर जाकर स्वयं को सहज महसूस करेंगे। यह समय मीडिया, तकनीक और जनसंचार से जुड़े जातकों के लिए भी अच्छा रहने वाला है। इस माह रियल एस्टेट से जुड़े जातकों को बढ़िया मुनाफा होने के योग दिखाई पड़ रहे है। इस माह आप अपने बच्चे की शादी को लेकर थोड़ा चिंतित भी हो सकते है। माह मध्य में सूर्य शनि समसप्तक योग पिता की सेहत को लेकर थोड़ी चिंता दे सकता है। 

सितंबर

सितंबर माह में आपको अपने कार्य स्थल पर बहुत अधिक मेहनत करनी होगी हालांकि आपको इस मेहनत का भी परिणाम देखने को मिलेगा। इस माह की गई मेहनत आपको भविष्य में बेहद अच्छे परिणाम देने वाली होगी। दशम में सूर्य मंगल की युति सेना,मशीन से जुड़े जातकों को अच्छा लाभ देने वाली होगी। लग्न पर मंगल की दृष्टि से थोड़ी क्रोध की अधिकता हो सकती है। इस समय आपको अपने अहंकार और घमंड पर काबू रखना होगा। शुक्र के विपरीत राजयोग के कारण इस माह आपको कोई गुप्त मदद मिल सकती है। इस समय आपके शत्रु आपके खिलाफ साजिश करेंगे लेकिन वो अपने आप ही खत्म भी हो जाएंगे। 

अक्टूबर 

अक्टूबर माह में राहु और केतु का महत्वपूर्ण संचरण जीवन के कई आयामों में अहम बदलाव लेकर आएगा। इस माह राहु आपके चौथे भाव में वहीं केतु का गोचर आपके दशम भाव में होगा। राहु का यह गोचर पारिवारिक जीवन में कुछ तनाव की स्थिति पैदा कर सकता है। इस समय आप किसी पुराने भवन को खरीदने में रूचि दिखा सकते है वही आपकी कोई संपत्ति जो बिक नहीं रही थी उसका सौदा हो सकता है। यह माह राजनीति से जुड़े जातकों के लिए भी महत्वपूर्ण रहेगा क्योंकि इस समय उनको नई जिम्मेदारी दी जा सकती है। केतु के कारण कार्य स्थल पर आपके खिलाफ साजिश हो सकती है इसलिए दूसरे लोगों पर थोड़ा कम भरोसा करेंगे तो ही बेहतर है। 

नवंबर

नवंबर माह में विदेश जाने की राह देख रहे जातकों का इंतज़ार पूरा हो सकता है। इस माह विदेश भाव में सूर्य मंगल की युति आपको विदेश से लाभ देने वाली होगी। इस समय आपको विदेश से किसी बड़ी नौकरी का भी ऑफर आ सकता है। दशम भाव में नीच के शुक्र की केतु के साथ युति किसी महिला सहकर्मी के साथ विवाद का कारण बन सकती है। इस माह सरकारी नौकरी कर रहे जातकों को काम के सिलसिले में यात्राएं करनी होगी जो की भविष्य में आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी। इस समय दाम्पत्य जीवन में थोड़ी खटास देखने को मिल सकती है इसलिए अपनी पत्नी की भावनाओं की कद्र करके चले। 

दिसंबर

साल के अंतिम माह संतान पक्ष से कोई अच्छी खबर मिल सकती है। इस माह गुरुदेव की कृपा से आपको शेयर मार्केट से भी अच्छा मुनाफा देखने को मिल सकता है। माह मध्य में लग्न में सूर्य का गोचर आपके उत्साह को बढ़ाने वाला होगा सरकार से जुड़े मामलों में आपको सफलता प्राप्त होगी। इस समय लाभ स्थान में विराजमान शुक्र गुरु के साथ समसप्तक योग बनाएंगे जिसके कारण आपकी वाणी प्रखर होगी और आपके भाइयों के सहयोग से आपका मन प्रसन्न रहेगा। कॉमर्स और फाइनेंस से जुड़े जातक इस समय अपने कार्य स्थल पर अच्छा प्रदर्शन करेंगे आपको प्रसिद्धि मिलेगी। जो जातक गुप्त विद्या सीख रहे है या ज्योतिष को समझाना चाह रहे है उनके लिए भी आगे बढ़ने का समय होगा आपको भविष्य में निःसन्देह सफलता मिलेगी।

Leave a comment